दिल्ली की लाइफ लाइन यमुना नदी को निर्मल बनाने के लिए देश के कोने-कोने से आए पर्यावरणविद

यमुना संसददिल्ली राज्य में यमुना संसद के तत्वाधान में देश के लगभग 20 राज्यों की स्वयंसेवी संस्थाए एवं सामाजिक संगठन के समाजसेवी,पर्यावरणविद पर्यावरण प्रेमी एवं बुद्धिजीवी के द्वारा दिल्ली के आठ स्थानों पर यमुना जी के किनारे हजारों की संख्या में जन समुदाय उपस्थित हुआ और अपनी हिस्सेदारी निभाई।
कार्यक्रम की शुरुआत गीत- संगीत,यमुना पूजन ,मानव श्रृंखला एवं विशेषज्ञों का उद्बोधन द्वारा संपन्न हुआ, डी.एन.डी. यमुना पुल पर जनकल्याण भूमि मुक्ति फाउंडेशन दिल्ली एवं बिहारी वेलफेयर सोसाइटी के विशेष सहयोग से सैकड़ों संस्थाओं के प्रयासों से यह कार्य सफलता पूर्वक संपन्न हुआ।
साथ आओ यमुना बचाओ की अपील के साथ दिल्ली की जीवनदायिनी,लाइफ लाइन यमुना नदी जिससे मानव,जीव-जंतु,जलीय जीव का जीवन चल रहा है।


आज मां यमुना जी के अस्तित्व पर संकट मंडरा रहा है दिल्ली और आसपास में जो कंपनी, फैक्ट्री,कारखानों का रासायनिक केमिकल युक्त गंदा पानी, नगर का सीवेज, अस्वच्छ मल – जल नाला और भी साधन जिसके द्वारा यमुना का पानी दूषित और जहरीला हो रहा है जिससे मानव जीवन के साथ-साथ जंगली जीव जंतु,पालतू पशु एवं जंगली जानवरों के स्वास्थ्य पर बुरा प्रभाव पड़ रहा है,हमारी मांग है कि इस पर रोक लगे राज्य सरकार, केंद्र सरकार और जन समुदाय के साथ-साथ जन भागीदारी से यमुना जी को साफ और पेयजल उपयोगी बनाया जाए !


हम सबको यह प्रण लेना होगा की हमारी मां यमुना अपने उद्गम स्थान जैसी पवित्र और स्वच्छ रहे,जिससे हमारी और आने वाली पीढ़ी पर यह जल संकट ना आए इसके लिए सभी राजनैतिक एवं गैर-राजनीतिक संस्थाओं और जल समुदाय को एक मंच पर आकर कंधे से कंधे मिलाकर कार्य करने की आवश्यकता है।इस कार्यक्रम में राष्ट्रीय जंगल एवं प्रकृति बचाओ अभियान भारत,एकता द यूथ पावर ऑफ इंडिया,शहीद भगत सिंह वेलफेयर एसोसिएशन,मातृशक्ति संगठन,नशा मुक्ति जागरूकता अभियान,प्रकाश नारी उत्थान फाउंडेशन,नई सोच नई पहल,लाडली फाउंडेशन,रानी लक्ष्मीबाई ट्रस्ट,संसार जनकल्याण एक किरण फाउंडेशन,महिला एवं बाल विकास संगठन,दक्ष प्रजापति विकास संगठन,बोन ईट पीयर बी शेअर,श्री दुर्गा मंदिर आश्रम छतरपुर संस्थापक संत बाबा नागपाल,प्रगतिशील समाज कल्याण समिति,राहुल गांधी विचार मंच,आदिशक्ति योगा मेडिटेशन सेंटर,द क्रिएटिव टैलेंट डांस सेंटर,साईं जन विकास फाउंडेशन,शिक्षा अभियान एजुकेशन सोसाइटी,सनराइज चिल्ड्रन एजुकेशन सोसायटी, गायत्री परिवार,समाज सुधार ट्रस्ट,बीवीएम पब्लिक स्कूल आदि उपस्थित रहे।

अनुराग विश्नोई
राष्ट्रीय जंगल एवं प्रकृति बचाओ अभियान भारत

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *