आरोग्य भारती ने मनाया अंतराष्ट्रीय पर्यावरण दिवस

मुज्जफ़रपुर ( बिहार ) – अंतराष्ट्रीय पर्यावरण दिवस पर आरोग्य भारती मुज़फ़्फ़रपुर महानगर इकाई द्वारा जिला उद्योग परिसर बेला में औषधीय पौधा रोपण, संरक्षण व सम्वर्द्धन का कार्यक्रम किया गया। कार्यक्रम का उद्घाटन विशिष्ट अतिथि उपविकास आयुक्त मुज़फ़्फ़रपुर आशुतोष द्विवेदी व प्रांतीय पदाधिकारी डॉ० नवीन कुमार के द्वारा आमला व हरश्रृंगार के पौधा रोपण से किये। उपविकास आयुक्त मुज़फ़्फ़रपुर आशुतोष द्विवेदी न कहा कि आरोग्य भारती के द्वारा किया जा रहा कार्य समाज को के एक नई दिशा स्वरूप है, पौधों के संरक्षण से हम समाज को बहुत ही महत्वपूर्ण सन्देश दे रहे हैं। हम सभी को अपने आस पास के स्थानों पर पौधा रोपण व संरक्षण हेतु सदैव प्रयास करना चाहिए।

आरोग्य भारती की ओर से श्रीमान को अपराजिता व हरश्रृंगार का पौधा भेट स्वरूप प्रदान किया गया।संस्था के अध्यक्ष डॉ राजीव कुमार (शिशुरोग विशेषज्ञ) व सचिव डॉ अजय कुमार व ने अतिथियों का स्वागत किया। डॉ राजीव कुमार ने कहा कि 1 पेड़ हमें औसतन 230 लीटर ऑक्सीजन प्रतिदिन प्रदान करता है। जिससे लगभग 6/7 मनुष्य के प्राणों का संरक्षण सम्भव है।डॉ नवीन कुमार एवं श्रीधर नारायण ड्रग इंस्पेक्टर, समाजसेवी हीरा लाल गुप्ता ने प्लास्टिक से होने वाले नुकसान को कम करने हेतु कपड़े के झोलों का निःशुल्क वितरण किया।घरेलू उपचार प्रमुख वैद्य ललन कुमार व डॉ० विकास शर्मा ने औषधीय पौधों के गुणों, रोगों पर प्रयोग, उपयोग के तरीकों पर प्रकाश डाला।डॉ विकास न बताया कि कोरोना काल मे हम सभी ने गिलोय के उपयोग की महत्त्वता को पहचाना है।

पृथ्वी पर उपलब्ध सभी जड़ी-बूटियों में गिलोय सहज उपलब्ध होने वाली बहुगुणी व दिव्य औषधि है। इसका प्रयोग ज्वर, कुष्ट, यकृत रोग, रोगप्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में किया जाता है। गिलोय में कार्डियोप्रोटेक्टिव गुण होते हैं जो हृदय स्वास्थ्य को बेहतर बनाने और हृदय रोग के जोखिम को कम करने में भी मदद करते हैं। आयुर्वेदीय ग्रंथो के अनुसार गिलोय का सत्व त्रिदोषघ्न होता है। कार्यक्रम में आरोग्य भारती के स्वस्थ जीवन शैली प्रमुख संतोष कुमार “अन्नू”, योग शिक्षक सुभाष कुमार, एक्यूप्रेशर विशेषज्ञ डॉ० राकेश रंजन सिन्हा, जिला उद्योग केंद्र के पदाधिकारीगणा राजेश कुमार श्रीवास्तव, चंद्रबोस तथा वीरेंद्र कुमार, पल्लव प्रतीक, डॉ अनिल कुमार, डॉ कनक कुमार, सुमन श्रीवास्तव, रमेंद्र चौधरी, डॉ ब्रह्मानंद, डॉ हरेश महाराज, डॉ आलोक पाठक, डॉ विकेश कुमार, गरीबनाथ भट्ट, राजेश शर्मा, विनोद शर्मा, वैद्य मिथलेश कुमार, नर्सरी विशेषज्ञ आशोक कुमार, आदि ने उपस्थित हो कर कार्यक्रम को सफल बनाने में सहयोग किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *