गिधाडी में वर्षों से पेयजल की समस्या

जलापूर्ति योजना से वंचित पुरा गांव, हाथपंप से पानी निकाल थके नागरिक

कछुआ चाल से चल रहा जलापूर्ति योजना कार्य

गोरेगांव
तहसील के ग्राम गिधाडी में वर्षों से ग्रामीण पेयजल की समस्या से जूझ रहे हैं तहसील का यह प्रख्यात गांव जलापूर्ति योजना से वर्षों से वंचित है इसके पूर्व भी इस गांव के लिए जलापूर्ति योजना को मंजूरी मिली थी परंतु कार्य शुरू नहीं हो पाया था ऐसे में बड़े जद्दोजहद के बाद इस वर्ष ही जल जीवन मिशन के तहत गांव की जलापूर्ति योजना को मंजूरी मिली है परंतु संबंधित ठेकेदार द्वारा कार्य में लगातार लापरवाही हो रही है जिसमें कार्य कछुआ चाल से चल रहा है यहां पेयजल की समस्या को लेकर स्थिति गंभीर बनी हुई है जिसमें ग्रामीण हाथ पंप से पानी निकाल कर थक गए हैं‌।
गौरतलब है कि गोरेगांव तहसील के अधिकतर ग्रामों में पेयजल जलापूर्ति योजनाएं उपलब्ध है जिसमें ग्राम गनखैरा डव्वा सिलेगांव तुमखेडा खाडीपार कवलेवाडा सहारवानी कुरहाडी घोटी कालीमाटी हिराटोला तिल्ली मोहगांव तथा मुंडीपार जैसे बड़े गांवो में पानी की आपूर्ति ना होने से यह योजना सफेद हाथी साबित हो रही है तो वहीं ग्राम गिधाडी में तो जलापूर्ति योजना ही नहीं है वर्षों से लोग हाथ पंप से पानी निकाल कर अपनी प्यास बुझा रहे हैं ऐसी स्थिति में महिलाओं को सबसे अधिक परेशानी हो रही है उल्लेखनीय है कि ग्राम गिधाडी पंचायत समिति सभापति मनोज बोपचे का निर्वाचित क्षेत्र हैं बावजूद गांव की यह स्थिति समझ के परे है ग्राम में 40 के करीब हाथ पंप है जिसमें कुछ हाथ पंप महीनों से बिगड़ी अवस्था में है यहां ग्रामीणों को शुद्ध पानी नहीं मिल रहा है जो गिधाडी वासियों के स्वास्थ्य के प्रति खिलवाड़ है ।

जानकारी के अनुसार ग्राम गिधाडी में जल जीवन मिशन अंतर्गत जलापूर्ति योजना मंजूर की गई है जिसमें एक ओर यहां 8 महीनों में अभी नल विस्तारीकरण का कार्य‌ भी पुरा नही हुआ है साथ ही पानी की टंकी भी अभी तैयार नहीं हूई है दूसरी ओर कार्य की लेटलतीफी पर ग्राम पंचायत ध्यान नहीं दे रही है ऐसे में संबंधित ठेकेदार कार्य जल्द पूरा करने को लेकर गंभीर नहीं है इस विषय इस विषय पर ग्राम सरपंच पुष्पा जैतवार ने बताया कि डैम से सीधा पानी कुआं में आना है जिसमें पाइपलाइन के लिए आने वाली जगह वन विभाग में आती है जिसमें अनुमति हेतु पत्र ग्राम पंचायत द्वारा वन विभाग को दिया गया है जिसके चलते कार्य में लेटलतीफी हो रही है गांव में जल्द से जल्द जलापूर्ति शुरू करने का प्रयास हमारा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *